*मन की वीणा से गुंजित ध्वनि मंगलम*

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

नौगढ‚चंदौली।राजकीय महाविद्यालय परिसर में मंगलवार को पांच दिवसीय रोवर्स रेंजर्स प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्पार्चन व दीप प्रज्वलित कर के किया गया।
जिसमें महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ रमेश कुमार सिंह ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में प्रशिक्षुओं को शुभकामना देते हुए अनुशासित रहकर रोवर्स रेंजर्स की विधाओं का गुर अर्जन करके देश और समाज की सेवा के लिए तत्पर रहने को प्रेरित किया।

किताबी ज्ञान के साथ ही ब्यवहारिक ज्ञान का भी होना मनुष्य के जीवन में अनिवार्य

रोवर्स रेंजर्स कार्यक्रम के दौरान बताया कि शिक्षा मनुष्य का ब्यक्तित्व व विकास की आधारशिला है।जिससे स्वस्थ समाज व राष्ट्र का निर्माण होता है।किताबी ज्ञान के साथ ही ब्यवहारिक ज्ञान का भी होना मनुष्य के जीवन में अनिवार्य है।
जिसके लिए महाविद्यालय में समय समय पर विभिन्न गतिविधियों को संचालित करके शिक्षणार्थियो को सामाजिक ज्ञान का उद्बोध कराया जाता है।

स्नातक की डिग्री हासिल करने का मूल तात्पर्य समाज का अंग बनना

स्नातक की डिग्री हासिल करने का मूल तात्पर्य समाज का अंग बनना है।
रोवर्स रेंजर्स समाज हित में सदैव तत्पर रहकर सेवा भाव के लिए तत्पर रहते हैं।
कोरोना त्रासदी के दौरान रोवर्स रेंजर्स ने गांव व बस्तियों तक पहुंच कर लोगों को आवश्यक सामान मुहैया करा कर उन्हें बचाव के बारे में जागरूक किया।
सांस्कृतिक पहलू के तहत एकता मे अनेकता की भावना व विधाओं को सीखकर जीवनोपयोगी होगा।जो कि विकसित भारत होने मे सहयोग करेगा।
इस अवसर पर स्काउट गाइड उ.प्र.के रोवर्स प्रशिक्षक रतन जायसवाल रेंजर्स प्रशिक्षिका साक्षी गुप्ता व महाविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर डा.रमेश चंद्र सिंह डा.शीतला प्रसाद डा.पंकज शुक्ला लिपिक सुरेश चन्द्र जायसवाल महेंद्र केशरी महेन्द्र केशरी मौजूद रहे।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

You missed