WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
WhatsApp Image 2024-06-29 at 12.
IMG-20231229-WA0088
previous arrow
next arrow

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

प्रयागराज। उत्‍तर प्रदेश में एक बार फिर अवैध प्रॉपर्टी पर बुलडोजर चल रहा है. इलाहाबाद के चकिया में अवैध प्रॉपर्टी पर पीडीए की कार्रवाई की गई। इसे उमेशपाल हत्याकांड में पुलिस का बड़ा एक्शन माना जा रहा है। जफर खालिद अहमद की अवैध संपत्ति पर पीडीए का बुलडोजर चल रहा है। जफर, बाहुबली अतीक अहमद का बेहद करीबी माना जाता है। अतीक का पूरा परिवार जफर के घर पर ही रहता था। बताया जा रहा है कि इस मकान का नक्शा पास नहीं है। इस अवैध निर्माण को पीडीए द्वारा पहले ही नोटिस दिया गया था और आज अवैध बने मकान के निमार्ण की ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की जा रही है।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
jpeg-optimizer_bhargavi
WhatsApp-Image-2024-06-22-at-14.49.57
previous arrow
next arrow

माफिया अतीक अहमद के करीबी जफर अहमद के घर बुधवार को प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) का बुलडोजर गरजा

बीते शुक्रवार को धूमनगंज थाना अंतर्गत जयतीपुर में उमेश पाल और उसके एक सुरक्षाकर्मी की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. उमेश पाल, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायक राजू पाल हत्याकांड का मुख्य गवाह था. सोमवार को पुलिस के साथ मुठभेड़ में उमेश पाल हत्याकांड का एक अभियुक्त अरबाज मारा गया. इस मुठभेड़ में धूमनगंज के थाना प्रभारी राजेश मौर्य घायल हो गए, जिनका उपचार एसआरएन अस्पताल में हो रहा है.प्रयागराज के धूमनगंज थाना अंतर्गत उमेश पाल हत्याकांड के बाद जारी पुलिस-प्रशासन की कार्रवाई के तहत बुधवार को माफिया अतीक अहमद के करीबी जफर अहमद के घर बुधवार को प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) का बुलडोजर पहुंचा. प्राधिकरण के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. प्रयागराज विकास प्राधिकरण के सचिव अजित सिंह ने बताया कि ध्वस्तीकरण की कार्रवाई के लिए पीडीए का बुलडोजर अतीक अहमद के करीबी जफर अहमद के घर को ध्‍वस्‍त करने के लिए गरजा।

.बता दें कि बीते शुक्रवार को धूमनगंज थाना अंतर्गत जयतीपुर में उमेश पाल और उसके एक सुरक्षाकर्मी की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. उमेश पाल, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायक राजू पाल हत्याकांड का मुख्य गवाह था. सोमवार को पुलिस के साथ मुठभेड़ में उमेश पाल हत्याकांड का एक अभियुक्त अरबाज मारा गया. इस मुठभेड़ में धूमनगंज के थाना प्रभारी राजेश मौर्य घायल हो गए, जिनका उपचार एसआरएन अस्पताल में हो रहा है।