कंगना रनोट का आज 36वां बर्थ डे है। कुछ सालों पहले तक कंगना की इमेज एक शो-पीस एक्ट्रेस की थी। अब 4 नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी एक्ट्रेस हैं, इनसे आगे सिर्फ शबाना आजमी हैं जो 5 नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी हैं। कंगना अपनी फिल्मों के लिए जितनी सुर्खियां बटोरती हैं, उससे ज्यादा अपने तीखे तेवरों के लिए जानी जाती हैं।

srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

खान्स के साथ फिल्में ठुकराईं, बड़े प्रोड्यूसर्स के खिलाफ मुहिम चलाई, आज कंगना का 36वां बर्थडे

कंगना रनोट का आज 36वां बर्थ डे है। कुछ सालों पहले तक कंगना की इमेज एक शो-पीस एक्ट्रेस की थी। अब 4 नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी एक्ट्रेस हैं, इनसे आगे सिर्फ शबाना आजमी हैं जो 5 नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी हैं। कंगना अपनी फिल्मों के लिए जितनी सुर्खियां बटोरती हैं, उससे ज्यादा अपने तीखे तेवरों के लिए जानी जाती हैं।

कंगना अकेली एक्ट्रेस हैं, जिनके खिलाफ देश के अलग-अलग शहरों और कोर्ट में 700 केस दर्ज हैं। कंगना ने कभी खान हीरोज (सलमान, शाहरुख और आमिर) के साथ काम नहीं किया। शाहरुख के साथ जीरो और सलमान के साथ सुल्तान दोनों फिल्में ठुकराईं, कुछ रिपोर्ट्स में ये भी दावा है कि शाहरुख कंगना के साथ फिल्म नहीं करना चाहते थे। अकेली कंगना ऐसी एक्ट्रेस हैं, जो बॉलीवुड के किसी भी बड़े प्रोडक्शन हाउस के साथ काम नहीं कर रही हैं, उन्होंने अपना ही प्रोडक्शन हाउस बना लिया है।

करण जौहर से लेकर अमिताभ बच्चन तक कोई भी कंगना के तीखे कमेंट्स से बच नहीं पाया

ये जिद, जुनून और झगड़े कंगना के लिए नए नहीं हैं। परिवार के खिलाफ जाकर फिल्मों में आईं, पहले काम के लिए स्ट्रगल किया, अपनी जगह बनाई और फिर नेपोटिज्म के खिलाफ झंडा उठाकर पूरी इंडस्ट्री के खिलाफ ही मुहिम छेड़ दी। करण जौहर से लेकर अमिताभ बच्चन तक कोई भी कंगना के तीखे कमेंट्स से बच नहीं पाया।

दूसरे बैनर्स की फिल्में छोड़ीं और खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू किया। आज कंगना सिर्फ एक्ट्रेस नहीं हैं, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी हैं। इसी साल कंगना के डायरेक्शन में बनी इमरजेंसी रिलीज होगी, जिसमें कंगना खुद पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की भूमिका निभा रही हैं।

ये जिद, जुनून और झगड़े कंगना के लिए नए नहीं हैं। परिवार के खिलाफ जाकर फिल्मों में आईं, पहले काम के लिए स्ट्रगल किया, अपनी जगह बनाई और फिर नेपोटिज्म के खिलाफ झंडा उठाकर पूरी इंडस्ट्री के खिलाफ ही मुहिम छेड़ दी। करण जौहर से लेकर अमिताभ बच्चन तक कोई भी कंगना के तीखे कमेंट्स से बच नहीं पाया।

कंगना सिर्फ एक्ट्रेस नहीं हैं, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी

दूसरे बैनर्स की फिल्में छोड़ीं और खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू किया। आज कंगना सिर्फ एक्ट्रेस नहीं हैं, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी हैं। इसी साल कंगना के डायरेक्शन में बनी इमरजेंसी रिलीज होगी, जिसमें कंगना खुद पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की भूमिका निभा रही हैं।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

सपनों के लिए संघर्ष और परिवार से बगावत
कंगना बचपन से बेबाक, जिद्दी और रूढ़िवादी सोच के खिलाफ थीं। उनका जन्म हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के पास भांबला में एक सामान्य राजपूत परिवार में हुआ। मां-बाप चाहते थे कि कंगना डॉक्टर बनें और अपने जिले का नाम रोशन करें।

वहीं, कंगना कुछ अलग करना चाहती थीं। हमेशा से सपना था मॉडल बनने का, लेकिन पूरा परिवार उनके इस सपने के खिलाफ था। पापा से इसके लिए बहुत मार भी पड़ी। मां के अनगिनत ताने सुनने पड़े, लेकिन कंगना ने हौसला नहीं खोया। आखिरकार घर छोड़कर मॉडलिंग करने दिल्ली चली गईं, लेकिन अपने सपने से समझौता नहीं किया।

मॉडलिंग के नाम पर तुम्हारी कोई ब्लू फिल्म बना देगा: मां
घर छोड़ने के बाद भी तानों का सिलसिला रुका नहीं। मां उन्हें कॉल कर कहती थीं- पापा को तुम्हारी चिंता हर वक्त सताती है, रात भर वो सो नहीं पाते। उनको कुछ हुआ तो इसकी जिम्मेदार तुम्हीं होगी। वहां पर तुम्हारी कोई ब्लू फिल्म बना लेगा और तुम्हें पता भी नहीं चलेगा। आस-पड़ोस में भी सब यही बातें करते थे। ये सारी बातें कंगना ने सिमी ग्रेवाल के इंटरव्यू में बताई थी।

पैसों की कमी थी, फिर भी परिवार से मदद नहीं मांगी
वहां पहुंचने पर भी इस बात का बिल्कुल इल्म नहीं था कि आगे क्या होगा। दिल्ली पहुंचने के बाद किस्मत और मेहनत से उन्हें एलीट मॉडलिंग एजेंसी में काम मिला। वहां पर कुछ असाइनमेंट करने के बाद कंगना को लगा कि मॉडलिंग फील्ड में वो क्रिएटिविटी नहीं है, जिसकी उनको तलाश है। इसके बाद उन्होंने थिएटर का रुख किया।

एक्टिंग करियर की शुरुआत अस्मिता थिएटर ग्रुप से

उन्होंने एक्टिंग करियर की शुरुआत अस्मिता थिएटर ग्रुप से की। एक्टिंग की ट्रेनिंग जाने-माने रंगमंच निर्देशक अरविंद गौड़ से ली।

लाइफ के इस पड़ाव पर भी कंगना को बहुत संघर्ष करना पड़ा। परिवार की तरफ से कोई फाइनेंशियल मदद नहीं मिलती थी। ना कोई कमाई का जरिया था, इस वजह से उन्हें ब्रेड और अचार खाकर गुजारा करना पड़ता था। इसके बावजूद भी उनका संघर्ष जारी रहा।

अंग्रेजी ना आने पर लोगों ने उड़ाया मजाक
कंगना ने फिल्म गैंगस्टर से बॉलीवुड में कदम रखा। शुरुआती सफर कई उतार-चढ़ाव से भरा रहा। अंग्रेजी नहीं आने की वजह से कई लोगों ने उनका मजाक भी उड़ाया, लेकिन उन्होंने इसे एक टास्क के तौर पर लिया और अंग्रेजी सीख कर खुद को साबित किया।

बड़े हीरोज के साथ फिल्में नहीं करनी चाहिए: कंगना
कंगना शुरुआत से ही हीरो पर निर्भर नहीं होना चाहती थीं। उन्होंने सिमी ग्रेवाल के इंटरव्यू में कहा था- मैं अपने आप को इस बात का भरोसा दिलाती थी कि फिल्म इंडस्ट्री पुरुष प्रधान नहीं है, लेकिन मैं गलत थी। समाज के जैसे ही यहां पर भी पुरुष प्रधानता है।

कंगना ने एक बार ये भी कहा था- मैं हीरोज की साइड किक बनकर नहीं रहना चाहती हूं। जब फिल्म में कोई बड़ा हीरो होता है, तो आप सिर्फ शो पीस बनकर रह जाते हैं।

तीनों खान के साथ फिल्म तभी करूंगीं, जब मेरा रोल उनके बराबर होगा
शायद यही वजह है कि कंगना ने फिल्म इंडस्ट्री के टॉप एक्ट्रर्स सलमान, शाहरुख और आमिर खान के साथ फिल्में करने से मना कर दिया था। उनका कहना था कि वो किसी भी खान के साथ तभी काम करेंगीं, जब उनका रोल हीरो के बराबर होगा। साथ ही ये भी कहना था कि क्या खान्स के साथ फिल्म करने से करियर में कोई बड़ी ग्रोथ देखने को मिलेगी?

कंगना ने ये भी कहा था कि जब उन्हें कैरियर में एक बड़ी फिल्मी ब्रेक की जरूरत थी, तब उनके साथ कोई भी फिल्म नहीं करना चाहता था। आज वो कामयाबी के शिखर पर हैं, तो टाॅप एक्टर्स भी उनके साथ स्क्रीन शेयर करना चाहते हैं।