srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

रामनवमी पर हवन कर रहे करीब 30 लोग 40 फीट नीचे गिरे, 17 को बचाया

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

इन्दौर। रामनवमी पर बावड़ी की छत धंसने से 13 लोगों की मौत हो गई। 40 फीट गहरी बावड़ी में 30 से ज्यादा लोग गिरे थे। बावड़ी से कुल 11 शव निकाले गए, जबकि पुलिस ने रस्सियों की मदद से 19 लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां दो लोगों ने दम तोड़ दिया। बावड़ी में चार से पांच फीट पानी है।

फिलहाल रेस्क्यू रुका , पानी निकालने के बाद दोबारा रेस्क्यू होगा शुरू

नगर निगम तीन पंप की मदद से पानी निकाल रहा है। आशंका है कि अभी भी कुछ लोग बावड़ी में डूबे हुए है। फिलहाल रेस्क्यू रुका हुआ है, पानी निकालने के बाद दोबारा रेस्क्यू शुरू होगा। पूरा मामला इंदौर के बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर का । जहा पर झूलेलाल जयंति का कार्यक्रम चल रहा था।

जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रेटी जांच के दिए आदेश

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हवन के दौरान हादसा हुआ। लोग बावड़ी की छत पर बैठे थे। वजन से उसकी छत टूट गई और लोग नीचे गिर गए। यह मंदिर करीब 60 साल पुराना है। मंदिर में दर्शन करने आया एक बच्चा अब भी लापता है। कलेक्टर ने घटना की मजिस्ट्रियल जांच कराने की बात कही है।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों के 5-5 लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि सरकार घायलों को इलाज कराएगी।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया बावड़ी से निकाली गई 11 डेडबॉडी में से 10 महिलाओं की है। अभी तक हादसे में हम 13 लोगों को खो चुके है। मौके पर प्रशासन रेस्क्यू कार्य में जुटा हुआ है। हादसे की जांच के आदेश भी दिए जा चुके हैं। जिन लोगों का बचाव किया गया है, उनका इलाज किया जा रहा है।

मृतकों में अब तक इन लोगों की पहचान हुई

  1. लक्ष्मी (70) पति रतीलाल पटेल, पटेल नगर
  2. इंद्र कुमार (53) पिता थामावदास हरवानी, साधु वासवानी नगर
  3. भारती कुकरेजा (58) पति परमानंद कुकरेजा, साधु वासवानी नगर
  4. जयवंती (84) पति परमानंद खूबचंदानी, स्नेह नगर
  5. दक्षा पटेल (60) पति लक्ष्मीकांत पटेल, पटेल नगर
  6. मधु (48) पति राजेश भम्मानी, सर्वोदय नगर
  7. मनीषा मोटवानी पति आकाश मोटवानी, साधु वासवानी नगर
  8. गंगा पटेल (58) पति गगन दास, पटेल नगर
  9. कनक पटेल (32), पटेल नगर
  10. पुष्पा पटेल (49), पटेल नगर
  11. भूमिका खानचंदानी (31), पटेल नगर

प्रधान मंत्री मोदी ने फोन कर जाना मुख्यमंत्री से हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि इंदौर में हुए हादसे से बेहद आहत हूं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बात कर स्थिति की जानकारी ली। राज्य सरकार बचाव और राहत कार्य में तेजी से आगे बढ़ रही है।

हवन के कारण मंदिर में भीड़ थी
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मंदिर में हवन चल रहा था। इस दौरान बावड़ी वाले हिस्से पर काफी भीड़ हो गई। इनमें अधिकांश महिलाएं और बच्चे थे, जो आगे हो रहे हवन को देखने के लिए बावड़ी वाले हिस्से पर बैठे थे।

मुख्यमंत्री कर रहे रेस्क्यू की मॉनिटरिंग

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदिर में हादसे को लेकर इंदौर कलेक्टर और कमिश्नर से फोन पर चर्चा की। उन्होंने पूरी जानकारी ली और रेस्क्यू तेज करने के निर्देश दिए। हादसे के बाद कलेक्टर से लेकर पुलिस कमिश्नर समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारी और एमवाय अस्पताल की मेडिकल टीम मौके पर पहुंच गई थी।

प्रेसिडेन्ट‚पी एम व डिफेन्स मंत्री सहित कई ने ट्वीट कर जताया शोक