• चंदौली में बनेगी पुलिस लाइन:53 किसानों ने किया पुलिस लाइन के लिए जमीन की रजिस्ट्री,
  • एएसपी विनय सिंह को मिली जिम्मेदारी 
  • चंदौली जिले के भोजापुर और बर्थरा गांव के बीच पुलिस लाइन निर्माण के लिए जमीन चिन्हित
  • चिन्हित जमीन की रजिस्ट्री चालू हो गई है। जो अंतिम चरण में ।
srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

चंदौली। जनपद के भोजापुर और बर्थरा गांव के बीच पुलिस लाइन निर्माण के लिए जमीन चिन्हित किया गया है। ऐसे में चिन्हित जमीन की रजिस्ट्री चालू हो गई है। जो अंतिम चरण में है। अब तक कुल 53 किसान अपनी जमीनों को राज्यपाल के नाम रजिस्ट्री कर चुके है। पुलिस लाइन की जमीन को बैनामा कराने के लिए अपर पुलिस अधीक्षक विनय कुमार सिंह को नामित किया गया है।

प्रदेश सरकार ने 15 करोड़ 90 लाख 21 हजार 774 रुपए की स्वीकृति प्रदान

चंदौली जिले में पुलिस लाइन निर्माण के लिए सकलडीहा तहसील के बढ़वल परगना के  भोजापुर गांव के इलाके में बनने वाली पुलिस लाइन के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने 15 करोड़ 90 लाख 21 हजार 774 रुपए की स्वीकृति प्रदान की है।

लम्बे समय के इंतजार का निकला फल‚32 एकड़ जमीन में चन्दौली सैदपुर मार्ग स्थित भोजापुर और बर्थरा गांव के बीच पुलिस लाइन

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

बताते चले कि जनपद को पुलिस लाइन का लंबे समय से इंतजार था। वहीं पुलिस लाइन न होने से एक तरफ पुलिसकर्मियों सहित अधिकारियों को परेशानी होती थी। वहीं दूसरी ओर पुलिस विभाग से जुड़े विभिन्न कार्यालय अस्थायी रूप से अन्य भवनों में संचालित हो रहे हैं। पुलिस व आमलोगों की परेशानियों को देखते हुए शासन ने 32 एकड़ जमीन में चन्दौली सैदपुर मार्ग स्थित भोजापुर और बर्थरा गांव के बीच पुलिस लाइन बनाने का फैसला किया है।

78 किसानों की जमीन हुई चिन्हित
जिसके लिए 78 किसानों की जमीन चिन्हित की गई थी। परन्तु 58 किसान जमीन देने के लिए राजी हुए है।इसमें अब तक कुल 53 किसान अपनी जमीन बैनामा कर चुके है। एएसपी बिनय कुमार सिंह ने बताया कि शेष पांच किसान जल्द ही अपनी जमीन पुलिस लाइन के लिए रजिस्ट्री करेंगे। यह जमीन राज्यपाल के नाम से बैनामा कराई गई है।

ए एसपी विनय कुमार सिंह व सी ओ राजेश कुमाार व कोतवाल विमलेश हुए नामित

जिसके लिए एएसपी बिनय कुमार सिंह नामित किए गए है। वहीं गवाह के तौर पर सीओ राजेश कुमार राय व कोतवाल विमलेश कुमार मौर्य को नामित किया गया है। जो ग्रामीण इलाके के कास्तकारों से समन्वय स्थापित करके बैनामा कराने में जुटे हुए हैं।