हिनौती दक्षिणी गांव जय किशन राजभर जो बीती रात घर पहुंचा और बकरी बांधने के खपड़ैल नुमा मड़ई में गया और अपने गले में कपड़े का फंदा बनाकर मड़ई के बास के बडेर में बांधकर फांसी लगाकर लटक गया।

WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
WhatsApp Image 2024-06-29 at 12.
IMG-20231229-WA0088
previous arrow
next arrow

चकिया‚चंदौली। हिनौती दक्षिणी गांव निवासी होरीलाल राजभर के दो पुत्र है। छोटा पुत्र जय किशन राजभर मंदबुद्धि और जिद्दी स्वभाव का था। छोटा पुत्र जय किशन राजभर बीती रात घर पहुंचा और बकरी बांधने के खपड़ैल नुमा मड़ई में गया और अपने गले में कपड़े का फंदा बनाकर मड़ई के बास के बडेर में बांधकर फांसी लगाकर लटक गया। जिससे उसकी मौत हो गई। काफी रात गए घर नहीं लौटा तो मां शीला पुत्र को खोजते हुए बाहर निकली।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
jpeg-optimizer_bhargavi
WhatsApp-Image-2024-06-22-at-14.49.57
previous arrow
next arrow

मौत से माँ का रो– रोकर बुरा हाल‚मौत के कारण की जानकारी पी एम रिर्पोट आने के बाद– प्रभारी निरीक्षक

मड़ई पहुंची तो देखा पुत्र का शव फंदे से लटक रहा है। पुत्र को लटकता देख सन्न रह गई। सूचना लगते ही गांव के लोग बड़ी संख्या में जुट गए। परिजनों ने घटना की जानकारी चौकी प्रभारी जनक यादव को दी। आनन फानन में फोर्स के साथ मौके पहुंचे चौकी इंचार्ज ने शव को कब्जे में लेकर मृतक के पिता होरी लाल राजभर की तहरीर पर कार्यवाही करते हुए शव को जिला चिकित्सालय पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। बड़ा पुत्र किशन बाहर किसी प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता है। घटना से परिवारजनों में दुख का पहाड़ टूट पड़ा और रो रो कर बुरा हाल हो गया।चकिया के प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश तिवारी ने बताया कि मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही स्पष्ट होगा।


You missed