WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
previous arrow
next arrow

राष्ट्रपति महोदया को संबोधित सौंपा 10 सूत्रीय ज्ञापन

अम्बुज मोदनवाल की रिर्पोट

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

चकि‚चंदौली। अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर चकिया ब्लाक मुख्यालय पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति महोदया को संबोधित 10 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा गया तथा सभा की गई।

सभा को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य कामरेड पासवान ने कहा कि देश भर में खेत मजदूरों,ग़ामीण गरीबों की हालत बहुत खराब है,कार्य दिवस सहित मजदूरी भी घट गई है,ऊपर से मंहगाई जानलेवा हो गई है, अब तक देश में किसान आत्महत्या कर रहे थे,
लेकिन हाल ही में संसद में पेश हुए एक रिपोर्ट के अनुसार सन्२०१९ से २०२२के बीच ४२४३ दिहाड़ी मजदूरों ने आत्महत्या की है।
दिहाड़ी मजदूर, ग़ामीण मजदूरों का ही हिस्सा होते हैं।

मजदूरों की माली हालत ठीक करने एवं ‘गरीमामय जीवन ‘ जीने की संवैधानिक अधिकार की गारंटी के लिए संघर्ष रहेगा जारी

इनकी माली हालत ठीक करने एवं ‘गरीमामय जीवन ‘ जीने की संवैधानिक अधिकार की गारंटी के लिए संघर्ष जारी रहेगा।
भाकपा (माले)चकिया ब्लॉक सचिव कामरेड विजई राम ने कहा की बुलडोजर राज पर तत्काल रोक लगाया जाए दशकों से जिस जमीन पर गरीब बसे हैं उनको मालिकाना हक दिया जाए, बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए घरों को ना गिराया जाए ,घर के अधिकार को मौलिक अधिकार बनाया जाए ,अनधिकृत बाशिंदों का सर्वे कराकर नया गृह कानून बनाया जाए।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

न्यूनतम मजदूरी दर कानून बनाया जाए और उसे प्रभावी तरीके से लागू किया जाए

इंकलाबी नौजवान सभ जिला कौंसिल सदस्य कामरेड रमेश चौहान ने कहा की न्यूनतम मजदूरी दर कानून बनाया जाए और उसे प्रभावी तरीके से लागू किया जाए ।
अकुशल श्रमिकों के लिए केंद्रीय न्यूनतम श्रम कानून के मुताबिक ₹429 दैनिक मजदूरी घोषित किया जाए ।
केंद्रीय कानून के अनुसार राज्य द्वारा मनरेगा मजदूरों को ₹429/दैनिक न्यूनतम मजदूरी दिया जाए ।डिजिटल उपस्थिति हस्ताक्षर बंद किया जाय।
धरना प्रदर्शन में गिरजा चौहान देवकी चौहान कन्हैया राम किशुन बनबसी,हिफाजत अली,आशीष राम शंकर राम,सरिता,रमा देवी, लक्ष्मीना सहित दर्जनों लोग शामिल रहे।