srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

नगर निकायों के नवनिर्वाचित मेयर व अध्यक्षों की कार्यशाला में CM Yogi व दोनों डिप्टी CM रहें मौजूद

नगर निगमों के महापौर और नगर पालिका परिषदों के अध्यक्षों के लिए गुरुवार को लखनऊ में एक दिवसीय कार्यशाला हुई। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में कार्यशाला का शुभारंभ नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने किया। इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ,डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, राज्य मंत्री राकेश राठौर गुरु, नगर विकास राज्य मंत्री कार्यक्रम में शामिल हुए।

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

लखनऊ।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ” स्वच्छता अभियान के तहत यूपी को स्वच्छ बनाना है। इसके लिए नगरीय क्षेत्र में स्वच्छता कमेटी का गठन किया जाना चाहिए। हर घर में एक डस्टबिन जरूर रखें और कूड़ा गाड़ी आए तो उसमें उसे फेंकें।”उन्होंने कहा कि 2017 से पहले लोगों को बिजली नहीं मिलती थी। अब हालात बदल चुके हैं। नगरीय क्षेत्रों में एलईडी की स्ट्रीट​​​ लाइटें लगवाईं गईं हैं। इससे प्रदूषण में कमी आई है। इसके लगने से प्रदूषण कम हुआ है। साढ़े 17 लाख गरीबों को आवास दिए हैं। उन्होंने कहा कि पहली बार नगर निकाय के चुनाव OBC कमीशन की रिपोर्ट को लागू करके किया गया। इसका परिणाम है कि आप सब जीतकर आए हैं।

शहर में अतिक्रमण पर लगाये लगाम‚पटरी ब्यवसाइयों को ब्यवस्थित करना आप सभी की जिम्मेदारी – सी एम

शहर में अतिक्रमण नहीं होना चाहिए। पटरी व्यवसायियों को व्यवस्थित करना आपकी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि जल निकासी की व्यवस्था के बारे में सोचना होगा। शहर में फागिंग और चूने के छिड़काव की भी व्यवस्था करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि हर नगर निकाय में रैन बसेरा होना चाहिए। इसमें महिलाओं और पुरुषों के लिए व्यवस्था होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि कोई भी सड़क पर भीख मांगते हुए नहीं दिखाई देना चाहिए। बल्कि ऐसे लोगों को शासन की योजनाओं से जोड़ना चाहिए। नगर निकाय की जमीनों पर लोगों का कब्जा न हो बल्कि उस पर गरीबों के लिए आवास, पटरी व्यवसायी या मल्टी लेवल पार्किंग बनाना चाहिए।

बेहतर काम करने के लिए पांच मानक तय करके काम करने के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी 762 नगर निकायों को बेहतर काम करने के लिए पांच मानक तय करके काम करने के निर्देश दिए हैं। इनमें स्वच्छता. शुद्ध पेयजलापूर्ति, बेहतर सड़क, सेफ सिटी और आय में आत्मनिर्भरता को मानक बनाया जाए। इन मानकों के आधार पर निकायों के बीच प्रतियोगिता कराने का सुझाव देते हुए मुख्यमंत्री ने प्रतियोगिता में पहला स्थान पाने वाले निकायों को पुरस्कतृ करने और एक से 10 करोड़ रुपये तक अतिरिक्त धनराशि देने की घोषणा की । उन्होंने कहा कि जो नगर निकाय इन मानकों को पूरा करते हुए प्रथम स्थान लाएगा, उन निकायों को लखनऊ में बुलाकर संबंधित महापौर, अध्यक्ष, नगर आयुक्त और अधिकारी को सम्मानित भी किया जाएगा।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

नगर निकाय तैयार करें कार्य योजना‚बरसात से पहले नाले व नालियों की सफाई के हो पुख्ता इंतजामात

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर घर नल के लिए सरकार पर्याप्त पैसा दे रही है। इसके लिए सभी नगर निकाय कार्ययोजना तैयार कर लें । सड़कों पर अतिक्रमण न होने पाए। उन्होंने कहा कि नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायतों को अपने क्षेत्र में सुगम यातायात की व्यवस्था बनाने के लिए शहर को अतिक्रमण मुक्त करने होंगे। इसके लिए पटरी दुकानदारों और टैक्सी स्टैंड की उचित व्यवस्था हो। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों को बरसात से पहले नाली और नालों की सफाई करने के साथ ही मच्छरों से बचाव के लिए फॉगिंग की व्यवस्था को दुरस्त करने के भी निर्देश दिए

तमाम तरह की ब्यवस्थाएं करने का दिया सी एम ने निर्देश

शहर की सड़कों पर निराश्रित गोवंश को कान्हा उपवन भेजने, रोजगार की तलाश में शहर में आने वाले लोगों के लिए रैन बसेरा की व्यवस्था करने और भीख मांगने वाले लोगों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से जोड़कर लाभ दिलाने को लेकर भी अधिकारियों को निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने नए नगर निकायों में स्थित सरकारी जमीनों को अवैध कब्जे से मुक्त करते हुए उसपर गरीबों के लिए मकान, बहुमंजिली व्यावसायिक व पार्किंग कॉम्पलेक्स आदि बनाने का भी सुझाव दिया।

बेहतर नगर पंचायतो को एक से 10 करोड़ अतिरिक्त राशि की मिलेगी

कार्यशाला के दौरान सीएम योगी ने पुरस्कारों की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जो नगर पंचायतें अपने जनपद में 5 से 7 पैरामीटर पर उतरते हुए जिला स्तर पर नंबर एक आएगी उन्हें एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे। जो नगर पालिका कमिश्नरी में पहले नंबर पर आएगा। उसको 2 करोड़ रुपए अतिरिक्त दिए जाएंगे। जो नगर निगम राज्य स्तर पर प्रथम आएगा उन्हें ₹10 करोड़ अतिरिक्त राशि देकर सम्मानित किया जाएगा। एक बार जिसे इनाम मिल जाएगा। वह दो साल तक उसमें शामिल नहीं हो पाएगा।

पर्यटन व धार्मिक स्थलों के विकास को मिलेगा पहली बार बजट

नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने कहा कि हमारे नगरों में जितने भी पर्यटन स्थल, धार्मिक स्थल होते हैं। उनको व्यवस्थापन करने के लिए धन खर्च होता है लेकिन नगर विकास विभाग के बाद बजट में कोई प्रावधान नहीं होता है। पहली बार इस बजट में मुख्यमंत्री जी ने नगर विकास विभाग के लिए बजट दिया। अब आप अपने नगरों में आने वाले ऐतिहासिक और धार्मिक स्थलों का आप स्वयं विकास करिए।

चकिया चेयरमैन गौरव श्रीवास्तव ने नगर विकास मंत्री से की मुलाकात‚मंत्री ने दिया विकास का भरपूर आश्वासन

कार्यशाला कार्यक्रम समाप्त होने के बाद चकिया के नव निर्वाचित चेयरमैन गौरव श्रीवास्तव ने नगर विकास मंत्री एके शर्मा से शिष्टाचार मुलाकात किया। नगर पंचायत के विकास कार्य को लेकर चर्चा की। और आग्रह किया कि नगर में तमाम सुविधाओं को बढ़ावा देने और विकास की गति को तेज करने की जरूरत है। जिस पर नगर विकास मंत्री ने विचार विमर्श कर आगे बढ़ाने का आश्वासन दिया।

सी एम के बताये मानक पूरा कर नगर पंचायत बनेगा उत्तम नगर पंचायत-चेयरमैन चकिया

वहीं चकिया के नवनिर्वाचित चेयरमैन गौरव श्रीवास्तव ने कहा कि लखनऊ में नगर विकास मंत्री के साथ-साथ कई अन्य मंत्रियों से भी मुलाकात कर चर्चा की गई। वहीं नगर की विभिन्न वार्डों की गलियों का निर्माण, मरम्मत कार्य कराने के साथ ही सुंदरीकरण और विभिन्न निर्माण कार्य कराने पर पूरा फोकस किया जाएगा। चकिया नगर पंचायत को पूरे प्रदेश में आगे रखने का भरपूर कार्य होगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा अच्छी सुविधाओं को देने के लिए जिस तरीके से निकायों को प्रोत्साहन योजना का ऐलान किया गया है। इसके लिए जो मानक तय किए गए हैं। उस को संज्ञान में लेते हुए पांचों मानकों को पूरा करने के साथ ही जिले में भी प्रथम स्थान लाने का भरपूर प्रयास होगा। सरकार द्वारा मिलने वाले प्रोत्साहन योजना के तहत भी और कार्य किया जा सके।