WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
previous arrow
next arrow

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

नौगढ‚चंदौली । गांजा व पशु तस्करों को पकड़ कर जेल के सलाखों के पीछे भेजने में बहुचर्चित थानाध्यक्ष अतुल प्रजापति के कार्यकाल मे मनबढों सरहंगो की मनमानी पर अंकुश नहीं लग पा रहा हैं।

चर्चित थानाध्यक्ष की कहानी भुक्तभोगी की जुबानी

थाना क्षेत्र के अमदहां चरनपुर गांव मे काफी गरीब दलित जाति का शिवमंदिल पासवान ने बटाई पर खेत लेकर के करीब 01 बीघा रकबा मे सब्जी की खेती किया था।
खेत मे हरे भरे पेड़ पौधों व सब्जियों को समीपवर्ती गांव डूमरिया के रहनुमा करीब आधा दर्जन मनबढ व काफी सरहंग चरवाहों ने एकराय होकर लगभग 60 से 70 की संख्या में अपनी अपनी पालतू भैंस को खेत में ले जाकर जबरदस्ती करते हुए घेराबंदी तोड़कर चरा दिया।जिसमे गरीब ब्यक्ति का 50‚000 रूपये से अधिक का नुकसान होने का अनुमान है।
जिसका विरोध किए जाने पर हौसला बुलंद चरवाहों ने खेत की निगरानी में लगे पिता पुत्र को लाठियां दिखलाकर चुप रहने की नसीहत देते हुए अनेकानेक धमकी भी दिया।

थानाध्यक्ष से गुहार लगाये बीत गये सप्ताह ‚नही हुई कोई सुनवाई

घटना की तत्काल लिखित सूचना पुलिस चौकी इंचार्ज व 02 दिनो बाद थानाध्यक्ष नौगढ को दिया गया।
जिसके एक सप्ताह का समय ब्यतीत हो जाने के बाद भी मनबढ सरहंग चरवाहों तक पुलिस की पहुंच नहीं हो सकी।
खेती बर्बाद हो जाने से आर्थिक विपन्नता का दंश झेलने को मजबूर गरीब ब्यक्ति व उसका परिवार काफी डरा सहमा एवं भयभीत है।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

न्याय मिलने की आस छोड़ चुका दलित का कहना है कि दबंगों के आगे गरीबों को न्याय कहां ?

थाना पुलिस से न्याय मिलने की आस छोड़ चुका दलित शिवमंदिल का कहना है कि गरीबों को न्याय कहां।
जिसके लिए पुलिस अधीक्षक से मिलकर अपनी ब्यथा सुनाकर न्याय की गुहार लगाऊंगा।
थानाध्यक्ष अतुल प्रजापति ने बताया कि मामला संज्ञान में आने पर पुलिस चौकी इंचार्ज अमदहां को जांच पड़ताल कर दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही के लिए पहल किए जाने का निर्देश दिया गया है।