अम्बुज मोदनवाल

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

शिकारगंज‚चंदौली। क्षेत्र में सीलिंग प्रक्रिया के तहत अतिरिक्त घोषित बैराठ फार्म की जमीन को इलाके के गरीबों भूमिहीन किसानों में बांटे जाने तथा बैराठ की भूमि पर खेती कर जीवन यापन करने वालों के नाम से उक्त भूमि का प्रमाण पत्र दिये जाने, के लिए भाकपा माले ने निकाला पैदल मार्च।

srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

राजा के नाम का खतौनी या कोई आदेश हो तो उसे सार्वजनिक किया जाय

राजा के नाम का खतौनी या कोई आदेश हो तो उसे सार्वजनिक किये जाने,अधिया व पटवन के रूप में कराई गई खेती से प्राप्त धनराशि कहां जाना है को लेकर भाकपा माले ने मोर्चा खोल रखा है।

सार्वजनिक किये जाने,बैराठ की जमीन का फर्जी मालिक बन अधिया व पटवन पर खेती कराने वाले अबूबकर व चंद्रदेव के खिलाफ धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किये जाने सहित तमाम मांगों को लेकर पैदल मार्च निकाला। भाकपा(माले),किसान महासभा,खेत मजदूर सभा, इंकलाबी नौजवान सभा तथा एपवा के संयुक्त कार्यक्रम के तहत क्षेत्र के उचहरा पुल से बैराठ फार्म की जमीन पर बने पुरानी छावनी तक मार्च कर सभा की गई|

विकास के सवाल पर भाकपा (माले) ने लगातार संघर्ष चलाया -भाकपा माले

मार्च तथा सभा को संबोधित करते हुए भाकपा(माले)जिला सचिव कामरेड अनिल पासवान ने कहा कि शिकारगंज क्षेत्र के विकास के सवाल पर भाकपा (माले) ने लगातार संघर्ष चलाया है। मजदूरों के लिए कारखाना बनी नंगी पहाड़ियों पर खनन का अधिकार दिए जाने,बांध भोका का संपूर्ण मरम्मत किए जाने तथा उसकी जमीन को गरीबों को खेती के लिए दिए जाने,सीलिंग प्रक्रिया के तहत अतिरिक्त घोषित बैराठ फार्म की जमीन को गरीबों भूमिहीन किसानों में बांटे जाने माग किया गया व गडवा (ताजपुर)के समग्र विकास सहित शिकारगंज क्षेत्र के तमाम ग्राम पंचायतों के राजस्व गांव की दर्जा पाने की मांग किया |बैराठ फार्म की जमीन को क्षेत्र के गरीबों भूमिहीन किसानों ने बांटे जाने की लड़ाई भी इस क्षेत्र के मजदूर किसानों की बड़ी लड़ाई है

जमीन के अधिकार की इस लड़ाई को पूरी ताकत से लड़ेगी भाकपा

सभा को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय किसान महासभा जिला अध्यक्ष कामरेड श्रवण मौर्य ने कहा कि गणवा आंदोलन की पहली मांग के बतौर भाकपा(माले)ने रानी द्वारा मुकदमा जीत जाने का अफवाह फैलाकर बैराठ फार्म की जमीन पर कुछ लोगों द्वारा खेती किए जाने व जमीन का फर्जी मालिक बन खेती की जमीन को अधिया पटवन के रुप में अन्य लोगों को दिए जाने की जांच कर कार्यवाही की मांग किया।

अधिवन पटवन का पैसा किसी को नही दिया जाय – नायब तहसीलदार

तथा अन्य लोगों को अधिया पटवन पर देते हैं तब उपजिलाधिकारी चकिया ने बताया कि उक्त जमीन सीलिंग प्रक्रिया के तहत अतिरिक्त घोषित भूमि है जिसका मालिक अधियन पटवन का पैसा लेने वाले व्यक्ति नहीं है कोई पैसा किसी को नहीं दिया जाना चाहिए|

प्रशासन काम नही करती है तो भाकपा करेगी

भाकपा(माले)नेताओं ने घोषणा करते हुए कहा कि अगर प्रशासन द्वारा सीलिंग प्रक्रिया के तहत अतिरिक्त घोषित हुए को भूमिहीन किसानों गरीबों में नहीं मिलता है तो भाकपा (माले) उस जमीन को चिन्हित करेगी और गरीबों तथा भूमिहीन किसानों में बांटेगी|

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow