WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
previous arrow
next arrow

सलिल पांडेय

  • मिर्जापुर पुलिस इस धड़पकड़ का फीडबैक ले : 5 बदमाश अभी पकड़े जाने बाकी हैं
  • मृतक गार्ड को सहायता में संवेदनशील आए जिसमें क्षत्रिय महासभा, सतीश मिश्र और अमिताभ पांडेय का नाम शामिल
  • ढपोरशंखी सहानुभूति का दौर भी जारी

पॉवरफुल को माला से लेकर बैंडबाजा बजाना तो स्वार्थ-सिद्धि का सूचक

मिर्जापुर। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में एक्सिस बैंक के पांच लुटेरों की बत्तीसी निकालकर पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है। हो न हो कि मिर्जापुर में बैंक के वैन से 35 लाख के लुटेरों का भी कनेक्शन रायगढ़ की घटना से हो क्योंकि रायगढ़ के पांच लुटेरे अभी गिरफ्त में नहीं आए हैं। रायगढ़ लूट का रुपया तथा लॉकर से लूटा गया जेवर भी बरामद हो गया है। पांच बदमाशों की गिरफ्तारी अभी शेष है। जो पकड़े गए हैं उनमें झारखंड तथा बिहार के बदमाश शामिल हैं।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
jpeg-optimizer_bhargavi
previous arrow
next arrow

प्लास्टिक की बोरी में रख लिया था रुपया और जेवर

रायगढ़ में पकड़े गए पांच में एक 50 साल का है जबकि शेष 20 से 35 वर्ष के बीच के हैं। लूट के बाद इसमें कुछ बदमाश रुपया लेकर ट्रक पर बैठकर भागे थे ताकि पुलिस को चकमा दे सकें। दो बदमाश क्रेटा गाड़ी पर ही थे। इसी क्रेटा के फुटेज से धड़पकड़ में सफलता मिली। मिर्जापुर की लूट का जो फुटेज जारी हुआ है उसमें रुपए के बॉक्स वाले बाइक के साइड में प्लास्टिक की बारी दिख रही है।

अभी डिटेल बाकी है पर यहां के पुलिस ऑफिसर सम्पर्क करें तो सुराग मिल सकता है

रायगढ़ मामले के अनावरण से मिर्जापुर केस के अनावरण की उम्मीद जागती दिख रही है। उक्त बदमाश बता सकते हैं कि यहां के लूट की इंचार्जी टीम का मुखिया कौन हो सकता है? बदमाशभी इलाका बांटते ही हैं। यदि रायगढ़ पुलिस से क्लू मिले तो पर्दाफाश हो सकता है। जो पांच अभी नहीं पकड़े गए हैं, उनमें यदि कोई यूपी के बनारस या आसपास जिले का होगा तो संभव है कि मिर्जापुर घटना के लोगों का दर-पता वह बता दे।

मृतक गार्ड की सहायता के प्रति संवेदनशील लोग

यहां की घटना में बदमाशों की गोली के चलते जिंदगी से पराजित हुए मृतक गार्ड जय सिंह के परिवार को आर्थिक सहायता देने में क्षत्रिय सभा, सपा नेता सतीश मिश्र और अमिताभ पांडेय का नाम सामने आया है। अनाश्रितों को आश्रय देने का भाव जिसे भगवान चाहता है, वही कर भी पाता है वरना मौखिक सहयोग तो ढपोरशंखी प्रवृत्ति की होती है। किसी पावरफुल व्यक्ति के आगे-पीछे घूमना और स्वागत में माला से लेकर दारू छलका देना तथा दबदबा दिखाने के लिए हवाई फायर करना यह पॉवरफुल व्यक्ति से कुछ हासिल करने का षडयंत्र ही कहा जाता है।

WhatsApp Image 2024-03-20 at 13.26.47
WhatsApp Image 2024-03-20 at 13.26.47
jpeg-optimizer_WhatsApp Image 2024-04-04 at 13.22.11
jpeg-optimizer_WhatsApp Image 2024-04-04 at 13.22.11
PlayPause
previous arrow
next arrow