srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

अयोध्या। 22 जनवरी को होने वाले भगवान श्रीराम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर देश के रामभक्तों में उत्साह का माहौल है। प्राण प्रतिष्ठा के दिन पूरे देश शहर ही नही देहात में भी दिवाली सा माहौल होगा। जिसे देखते हुए बाजारों में दीयों की मांग बढ़ गई है। इससे कुम्हारों के चाक दिन-रात घूम रहे है। इस दीपावली के तीन महीने बाद एक बार फिर से उनकी दिवाली मनने वाली है।

श्रीराम प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के अवसर पर सभी देशवासियों से दीये जलाने का आह्वान

22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले भगवान श्रीराम प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के अवसर पर सभी देशवासियों से दीये जलाने का आह्वान किया गया है। इसके लिए बाजार में भी दीयों की मांग बढ़ने लगी है। कुम्हार के चाक भी तैयारियों को लेकर दिन-रात घूम रहे हैं।

हालांकि, कड़कड़ाती ठंड उनके इस कार्य में बाधा बनी हुई है। धूप नहीं निकलने के कारण उन्हें दीये बनाने में परेशानी हो रही है, फिर भी वह भगवान श्रीराम के इस उत्सव में शामिल होने के लिए कड़कड़ती ठंड में पीछे नहीं रहना चाहते हैं।

तीन महिने में लगातार तीसरी बार मनेगी दीवाली ‚जगमग होंगे मंदिर‚सरोवर

प्राण प्रतिष्ठा के दिन ऐतिहासिक नगरी में ही नहीं, पूरे देश में दिवाली सा माहौल होगा। दीयों से मंदिरों और घरों को सजाया जाएगा। सीजन बंद होने के कारण तीन महीने से कुम्हारों के चाक भी बंद थे। परंतु भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर दीयों की एडवांस बुकिंग मिलने से कुम्हारों के चाक एक बार फिर दिन-रात घूम रहे हैं और भट्ठियां भी लगातार सुलग रहीं हैं।

भाजपा कार्यकर्ता लगे जी जान से ‚कही कोई कसर बाकी न रह जाय

उधर, भाजपा कार्यकर्ता भी इस ऐतिहासिक पल को यादगार बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। व्यापारी और कस्बे के सामाजिक लोग अपनी-अपनी ओर से दीये जलाकर भंडारा करने की योजना तैयार कर चुके हैं।प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को भव्य रूप से मनाने के लिए ऐतिहासिक नगरी के प्राचीन मंदिरों को भी सजाया जा रहा है। प्राचीन जयंती माता शक्तिपीठ मंदिर के अध्यक्ष सुदेश कुमार ने बताया कि दीपावली की भांति प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भी माता के मंदिर को सजाया जाएगा।

ब्यापारी भी प्राण प्रतिष्ठा को भुनाने में लगे

इन दिनों जिस तरफ निकलो भगवा झंडे लहराते हुए दिखते हैं। बाजार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को भुनाने में लगा है। सड़क पर घूम रहे आम विक्रेताओं से लेकर कॉरपोरेट जगत तक राम मंदिर में खुद के लिए अवसर ढूंढ रहा है। एफएम रेडियो पर दिन-रात कंपनियों के राम मंदिर से जुड़े विज्ञापन बज रहे हैं। 22 जनवरी को राम मंदिर से खुद को जोड़कर दिखाने की मानो होड़ लगी हुई है। अनुमान है कि देशभर में एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का कारोबार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से होगा।

कारपोरेट जगत में छाया राम मंदिर के बैनर, कैप, टी-शर्ट, कुर्ते

कोई भी विशेष अवसर जब देश में होता है तो कॉरपोरेट जगत स्वयं को दूर नहीं कर पाता। फिर अयोध्या में राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम तो भारत में जन-जन की आस्था का प्रतीक बन गया है। ऐसे में बाजार कैसे इस अवसर को छोड़ सकता है? शायद ही कोई ऐसा बिजनेस होगा, जो स्वयं को भगवान राम से न जोड़ रहा हो। राम मंदिर के बैनर, कैप, टी-शर्ट, कुर्ते हर तरफ देखने को मिल रहे हैं। 

हलवाई से लेकर इलेक्ट्रीशियन हुए बीजी नही हों पा रहे इजी

22 जनवरी को कई कंपनियां ग्राहकों को लुभाने के लिए ऑफर दे रही हैं। गांव हो या शहर, जगह-जगह पंडाल लगाए जा रहे हैं। भोज चल रहे हैं। हलवाई पूरी तरह व्यस्त हैं। टेंट हाउस वाले डिमांड पूरी नहीं कर पा रहे हैं। घरों पर लोगों ने दीपावली जैसी सजावट की है। इलेक्ट्रीशियन दिन-रात इस काम में लगे हुए हैं। एक प्रसिद्ध शीतल पेय ब्रांड ने हिंदी थीम पर अपना प्रोडेक्ट उतार दिया है। होटल इंडस्ट्री से लेकर ट्रैवल एजेंसियां तक पीछे नहीं हैं।

म्यूजिक इंडस्ट्री बूम पर भगवान राम को समर्पित भजनों और गानों की आई बहार

म्यूजिक इंडस्ट्री बूम पर है। भगवान राम को समर्पित भजनों और गानों की बहार आई हुई है। शहरों में बिल्डर 22 जनवरी को अपने प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास कर रहे हैं। देशभर में राम मंदिर के 5 करोड़ से अधिक मॉडल बेचे जाने का अनुमान है और इसके लिए दिन-रात अलग-अलग राज्यों में कुटीर उद्योग स्तर पर काम चल रहा है।

धार्मिक पुस्तकों की आई बाढ़

धार्मिक पुस्तकों की बिक्री बढ़ गई है। पिछले दिनों गोरखपुर में गीता प्रेस के पास रामचरित मानस पुस्तक की कमी हो गई थी। कुछ यही स्थिति गारमेंट्स कारोबार में भी देखने को मिल रही है।धार्मिक पुस्तकों की बिक्री बढ़ गई है। पिछले दिनों गोरखपुर में गीता प्रेस के पास रामचरित मानस पुस्तक की कमी हो गई थी। कुछ यही स्थिति गारमेंट्स कारोबार में भी देखने को मिल रही है।

राम मंदिर के सहारे नया धार्मिक टूरिज्म हब बनाने का योगी सरकार का सपना हो रहा पूरा

राम मंदिर बनाने का काम भले टाटा और एल.एंड.टी ने किया है, लेकिन अयोध्या के विकास संबंधी कार्यों में कई कॉरपोरेट सहयोग देने के लिए आतुर हैं। अयोध्या को राम मंदिर के सहारे नया धार्मिक टूरिज्म हब बनाने का योगी सरकार का सपना पूरा हो रहा है।

अयोध्या, काशी और मथुरा के सहारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी की इकोनॉमी को एक ट्रिलियन डॉलर की तरफ ले जाने का सपना देख रहे हैं। जिस तरह से कॉरपोरेट जगत का साथ राम मंदिर को मिला है तो योगी आदित्यनाथ का यह सपना पूरा होता दिख रहा है।

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के दिन सार्वजनिक अवकाश की घोषणा

भाजपा शासित कई राज्यों ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के दिन सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है। केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए आधे दिन का अवकाश घोषित किया है। इसी तर्ज पर कुछ कॉरपोरेट्स और निजी कंपनियां भी अवकाश घोषित कर रही हैं। जिस तरह से देश राममय है तो यह बिल्कुल स्पष्ट है कि राम की कृपा सब पर बरस रही है। फिर दीपावली जैसे उत्सव पर भला कोई कैसे पीछे रह सकता है?

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow