WhatsApp Image 2024-03-20 at 13.26.47
WhatsApp Image 2024-03-20 at 13.26.47
jpeg-optimizer_WhatsApp Image 2024-04-04 at 13.22.11
jpeg-optimizer_WhatsApp Image 2024-04-04 at 13.22.11
PlayPause
previous arrow
next arrow
  • कब्रिस्तान के बाहर बेकाबू हुई भीड़ को पुलिस और अफजाल ने समझाया, ड्रोन से हुई निगरानी
  • मुख्तार अंसारी को दफनाया गया, जनाजे में शामिल हुए हजारों लोग

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

गाजीपुर। बेकाबू भीड़ को समझाने के लिए अफजाल अंसारी और विधायक सोहेल अंसारी कब्रिस्तान से बाहर आए। उन्होंने भीड़ से अपील की तब जाकर भीड़ शांत हुई। उन्होंने तकरीबन 5 मिनट तक भीड़ को समझाया और उनसे बातचीत की। इस दौरान प्रशासन ने ड्रोन उड़ाकर सुरक्षा के बाबत निगहबानी की।

srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

भीड़ उस समय बेकाबू हो गई जब मुख्तार अंसारी का शव कब्र में दफनाया जा रहा था। शनिवार को करीब 11 बजे हर कोई मुख्तार के कब्र में मिट्टी देने के लिए आगे आना चाहता था। इस कारण मौके पर भीड़ बेकाबू हो गई। रस्सी लगाकर लोगों को कब्रिस्तान के बाहर किया गया। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस बल ने भीड़ को हटा दिया है।

मुख्तार अंसारी को कब्रिस्तान में दफनाया गया

पूर्वांचल के माफिया मुख्तार अंसारी का आज सुपुर्द-ए-खाक किया गया। मुख्तार का शव गाजीपुर जिले के मुहम्मदाबाद स्थित उसके पैतृक निवास पर पहुंच गया था। जनाजे के दौरान हजारों की भीड़ में लोग शामिल हुए। जब जनाजा कब्रिस्तान के अंदर चला गया तो वहां पर पांच हजार से अधिक लोग जनाजे में शामिल थे।चप्पे चप्पे पर CISF की भारी तैनाती की गई थी. जब तक मुख्तार अंसारी के शव को दफनाया नहीं गया, तब तक शव CISF की निगरानी में था. इस दौरान पुलिस ने फ्लैग मार्च भी किया था. अति संवेदनशील क्षेत्र संस्कृत पाठशाला और जामा मस्जिद शाही कटरा में सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ाई गई थी. बता दें कि शव को कल देर रात पुलिस की कड़ी सुरक्षा में मोहम्‍मदाबाद लाया गया था.

क़ब्रिस्तान के अंदर जाने वालों को दिखाने पडे आधार कार्ड

मुख़्तार अंसारी के घर के बाहर भारी भीड़ जमा थी। क़ब्रिस्तान के अंदर जाने वालों को आधार कार्ड दिखाने के लिए कहा गया था. सुरक्षा के चलते क़ब्रिस्तान में अनजान लोगो की इंट्री नहीं थी।

मुख्तार अंसारी को दफनाने के लिये कब्र तैयार किया गया था। कब्र 7.5 फिट लम्बी,3.5 फिट चौड़ी गहरी बनाई गई थी. हिन्दू मजदूरों गिरधारी, संजय और नगीना ने कब्र को तैयार किया था।

गाजीपुर में मुख्तार के आवास पर बढ़ी सुरक्षा

मोहम्मदाबाद में एसपी ग़ाज़ीपुर ने कहा कि सुपुर्द-ए-खाक आज सुबह 10 बजे रीति-रिवाज के अनुसार किया जाएगा। शव अभी उनके घर पर रखा गया है। पर्याप्त पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात हैं। गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी के सुपुर्द-ए-खाक से पहले उनके गाजीपुर स्थित आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई।

मुख्तार अंसारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, जानिए कैसे हुई माफिया की मौत, हुआ खुलासा

पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई. बता दें कि 8 राज्यों के 60 अलग-अलग मामलों में जेल में बंद मुख्तार का गुरुवार रात दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां उसने दम तोड़ दिया।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow