WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
srvs_11zon
Screenshot_7_11zon
WhatsApp Image 2024-06-29 at 12.
IMG-20231229-WA0088
previous arrow
next arrow

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

ब्यूरो रिर्पोट लखनऊ। सिकंदराराऊ के मुगलगढ़ी व फुलरई के बीच नारायण हरी भोले बाबा के सत्संग में मंगलवार को भगदड़ मच गई थी। हादसे में अभी तक प्रशासन ने 121 लोगों के मरने की पुष्टी की है। हालांकि, अन्य स्रोत ये संख्या 150 से ज्यादा की बता रहे हैं।सत्संग में मची भगदड़ में घायल हुए लोगों का हाथरस और एटा के अस्पतालों में इलाज चल रहा है। घटना की जानकारी पर अलीगढ़ और आगरा मंडल के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी सिकंदराराऊ पहुंचे और मामले की जानकारी ली। वहीं लखनऊ से मुख्य सचिव और डीजीपी ने रात सिकंदराराऊ पहुंचकर मामले की गहनता से जांच पड़ताल की है। मुख्यंमंत्री योगी आदित्यनाथ हाथरस पहुंच गए हैं। सर्किट हाउस में प्रशासन के अधिकारियों से अपडेट लेने के बाद सीएम योगी सीधे अस्पताल पहुंचे और घायलों से मुलाकात की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फुल एक्शन में

हाथरस हादसे को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फुल एक्शन में हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को स्वयं हाथरस पहुंचे और यहां उन्होंने अधिकारियों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली और फिर सीएम योगी सीधे हाथरस जिला अस्पताल पहुंच गए जहां उन्होंने हादसे में घायल हुए लोगों का हाल चाल जाना और डॉक्टरों को सभी घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दिए। यही नहीं बरसते पानी के बीच सीएम घटनास्थल पर भी पहुंचे, जहां उन्हें अधिकारियों ने पूरा घटना का ब्यौरा दिया।

मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को 50-50 हजार की सहायता

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को हाथरस के सिकंदराराऊ में भोले बाबा के सत्संग कार्यक्रम में मची भगदड़ में सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी। सीएम योगी ने तुरंत एक्शन लेते हुए तीन मंत्रियों की टीम और मुख्य सचिव व डीजीपी को तत्काल हाथरस के लिए रवाना किया था। यही नहीं, सीएम ने घटना की जांच के लिए एडिशनल डीजी आगरा और मंडलायुक्त अलीगढ़ को नियुक्त किया और 24 घंटे में रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए। इसके अलावा सीएम ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपए की सहायता राशि देने का भी ऐलान किया।

जानकारी हासिल कर दिये घायलों के समुचित उपचार के दिए निर्देश 
हादसे के एक दिन बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को हाथरस पहुंचे। यहां उन्होंने सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ पूरे घटनाक्रम की विस्तार से जानकारी हासिल की और महत्वपूर्ण दिशा निर्देश भी प्रदान किए। इसके बाद सीएम योगी हाथरस जिला अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने घायलों और उनके परिजनों से बात की। वो हर एक बेड पर जाकर घायलों से मिले और पूरी घटना के बारे में जानकारी ली।

उन्होंने घायलों से उनकी तबीयत के बारे में पूछा और इलाज के संबंध में भी चर्चा की। सीएम ने घायलों के परिजनों से भी विस्तार से बात की। इस दौरान उन्होंने डॉक्टरों से भी घायलों की स्थिति के विषय में जाना और समुचित उपचार के निर्देश प्रदान किए। इस दौरान सीएम योगी मृतकों के परिजनों से भी मिले और उनके साथ हुए हादसे के बारे में जानकारी ली और साथ ही अपनी ओर से सांत्वना और संवेदना भी प्रकट की।



सीएम को प्रत्यक्षदर्शी महिला कांस्टेबल ने बताया कैसे हुई घटना
इससे पूर्व सीएम योगी ने पुलिस लाइन में घटना के प्रत्यक्षदर्शियों से भी मुलाकात कर हादसे के विषय में जानकारी ली। घटना की प्रत्यक्षदर्शी और ड्यूटी पर तैनात महिला कांस्टेबल ने सीएम को पूरी घटना के बारे में बताया। उसने बताया कि भगदड़ मचने के बाद लोग एक-दूसरे के ऊपर गिरते चले गए। खासतौर पर बड़ी संख्या में महिलाएं भगदड़ का शिकार बनीं। वो उठना चाह रही थीं लेकिन उठ नहीं सकीं क्योंकि एक के बाद एक महिलाएं उनके ऊपर गिरती चली गईं। सीएम योगी के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, सरकार में मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, असीम अरुण और संदीप सिंह के साथ ही स्थानीय विधायक, मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह और प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद भी मौजूद रहे।

बरसते पानी के बीच घटनास्थल पहुंचे सीएम योगी 
घायलों से मिलने के बाद सीएम योगी हाथरस के सिकंदराराऊ में उस स्थान पर भी पहुंचे, जहां मंगलवार को भगदड़ में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की मौत हुई थी। सीएम योगी के साथ तीनों मंत्री, मुख्य सचिव, डीजीपी व स्थानीय विधायक भी मौजूद थे। अलीगढ़ की मंडलायुक्त ने सीएम योगी को हादसे से जुड़ी एक-एक घटना के विषय में विस्तार से जानकारी दी। बरसते पानी के बीच सीएम योगी ने भगदड़ वाले स्थल का भी जायजा लिया और आवश्यक निर्देश प्रदान किए। 

एसडीएम ने डीएम हाथरस को सौंपी अपनी रिपोर्ट 
इस बीच, हाथरस हादसे पर एसडीएम सिकंदराराऊ ने हाथरस के डीएम को अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि सत्संग के दौरान पांडाल में 2 लाख से अधिक श्रद्धालुओं की भीड़ मौजूद थी। सत्संग खत्म होने के बाद नारायण साकार हरि (भोले बाबा) के दर्शन व चरण स्पर्श एवं आशीर्वाद स्वरूप उनकी चरण रज अपने माथे पर लगाने के लिए लोग आगे बढ़े। श्रद्धालु उनके वाहन की ओर दौड़ने लगे तो बाबा के साथ उनके निजी सुरक्षाकर्मी (ब्लैक कमांडो) एवं सेवादारों ने भीड़ के साथ धक्का-मुक्की शुरू कर दी। इससे कुछ लोग नीचे गिर गए। यहां से भीड़ कार्यक्रम स्थल के सामने खुले खेत की तरफ भागी जहां सड़क से खेत की ओर उतरने के दौरान ढालनुमा जगह होने के कारण लोग फिसलकर गिर पड़े। इसके बाद वो पुनः उठ नहीं सके और भीड़ उनके ऊपर से होकर इधर-उधर भागने लगी। इसमें कई महिलाएं व पुरुष और बच्चे हताहत व गंभीर रूप से घायल हो गए। तत्काल पुलिस सुरक्षाकर्मियों द्वारा हताहत लोगों को एंबुलेंस व अन्य उपस्थित साधनों से घटनास्थल के आसपास स्थित अस्पतालों एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भिजवाया गया।

ये साजिश है या हादसा, रिटायर्ड जज करेंगे जांच

सीएम योगी ने घटनास्थल का निरीक्षण और घायलों से मुलाकात के बाद मीडिया को संबोधित किया. बोले, हादसे में 121 की मौत हुई है. इसमें उत्तर प्रदेश के साथ साथ हरियाणा राजस्थान और मध्य प्रदेश के लोग इनमें शामिल हैं. यूपी में हाथरस बदायूं कासगंज अलीगढ़ एटा आगरा फिरोजाबाद मथुरा लखीरपुर खीरी समेत 16 जनपद के लोग हादसे का शिकार हुए हैं. 6 मृतक अन्य जिलों से हैं. सीएम योगी बोले, उनको चश्मदीदों ने बताया कि हादसा कार्यक्रम के बाद तब हुआ जब कथावाचक को छूने आशीर्वाद लेने के लिए महिलाओं का दल बढ़ा. इस दौरान सेवादारों ने धक्का दे दिया. इससे हादसा हो गया. घटना के लिए एडीजी आगरा के नेतृत्व में एसआईटी बनाई है. घटना की तह तक जाने के लिए कहा गया है. घटना की जिम्मेदारी लोगों पर तय करने की कार्रवाई बढ़ रही है. ये हादसा है तो उसकी वजह क्या रही और यदि ये साजिश है तो इसके पीछे कौन है. इसकी जांच कराई जा रही है. जिम्मेदारों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी. ऐसे आयोजनों के लिए एक एसओपी बनाई जाएगी।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
jpeg-optimizer_bhargavi
WhatsApp-Image-2024-06-22-at-14.49.57
previous arrow
next arrow