अदालत ने हिंदू याचिकाकर्ताओं को वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद में पहले सील किए गए तहखाने में पूजा करने की अनुमति दे दी है. वाराणसी की एक अदालत ने बुधवार को दोपहर में यह फैसला सुनाया. अपने आदेश में अदालत ने कहा कि विश्वनाथ मंदिर के पुजारियों द्वारा पूजा-अर्चना की जा सकती है.

अदालत ने आदेश दिया कि, रिसीवर जिला अधिकारी और काशी विश्वनाथ ट्रस्ट आदि मिलकर पुजारी नियुक्त करके पूजा प्रारंभ करें

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

वाराणसी। ज्ञानवापी में व्यास जी के तहखाने में जिला अदालत द्वारा पूजा करने की अनुमति दिए जाने के बाद हिंदू पक्ष के अधिवक्ता व वादिनी महिलाओं ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी मनाया। 

अदालत ने कहा कि, मस्जिद के तहखाने में प्रवेश पर रोक के लिए लगाए गए बैरिकेड्स को हटाने की व्यवस्था की जानी चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने तहखाने को एएसआई के सर्वेक्षण के दौरान सील करने का आदेश दिया था।

ज्ञानवापी केस में हिंदू पक्ष के वकील सुधीर त्रिपाठी ने एएनआई से कहा कि, ”1993 में वहां पूजा-पाठ होती थी. मुलायम सिंह की तत्कालीन सरकार ने बिना किसी सक्षम न्यायालय के आदेश के उसको लोहे की पट्टिका से घिरवाकर वहां पूजा बंद करा दी थी.  इसमें एक मुकदमा दायर किया गया उसमें दो रिलीफ मांगे गए. पहला रिलीफ मांगा गया कि व्यासजी के तहखाने के दरवाजे खिड़की टूटे हैं, जर्जर हैं और उस पर बलात कब्जा रोका जाए. जिला अधिकारी को रिसीवर नियुक्त किया जाए।

सात दिन के अंदर लोहे की पट्टिका हटाकर पूजन प्रारंभ कराएं

उन्होंने कहा कि, ”आज अदालत ने स्पष्ट आदेश दिया कि, रिसीवर जिला अधिकारी और काशी विश्वनाथ ट्रस्ट आदि मिलकर पुजारी नियुक्त करके पूजा प्रारंभ करें. अब सात दिन के अंदर लोहे की पट्टिका हटाकर पूजन प्रारंभ कराएंगे. यह बहुत बड़ी सफलता मानकर चलिए. यह न्याय की जीत है, सत्य की जीत है.” 

हिंदू पक्ष के लोगों ने हर-हर महादेव के लगाए जयकारे

कोर्ट का आदेश आने के बाद हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन समेत सभी अधिवक्ताओं ने खुशी जाहिर किया। सभी अधिवक्ताओं समेत मौजूद हिंदू पक्ष के लोगों ने हर-हर महादेव के जयकारे लगाए। हिंदू पक्ष के वकील सुभाष नंदन चतुर्वेदी कहते ने कहा व्यासजी के तहखाने में पूजा करने का अधिकार दिया गया है और कोर्ट ने एक सप्ताह के भीतर आदेश का अनुपालन करने का आदेश जिला अधिकारी को दिया है।

आदेश के साथ ही सुरक्षा के कडे इन्तजामात

जिला जज की कोर्ट ने अपने आदेश में व्यासजी के तहखाने में पूजा की अनुमति दे दी है। इसको लेकर काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर चार पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। यहां पर्याप्त मात्रा में सुरक्षाकर्मी तैनात हैं। 

dalimes
srvs-001
srvs
Screenshot_3
Screenshot_2
dwivedi02
silver-wells-finql
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
add-dwivedi
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
previous arrow
next arrow
khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp Image 2023-09-12 at 21.22.26_1_11zon
12_11zon
previous arrow
next arrow