खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

चंदौली। क्या पता था कि आज का दिन उसका आखिरी दिन होगा। वह बेचारो तो दो जून की रोटी के लिए काम पर आया था और काल के गाल में समा गया। जी हाँ हम बात कर रह रहे है कोतवाली क्षेत्र के राजकीय बालिका इंटर कालेज की जहा पर मंगलवार को प्रयोगशाला का छज्जा गिर जाने से कृषि कार्य कर रहे तीन मजदूर दब गए। ग्रामीणों के सहयोग से तीनों को मलबे से निकालकर सकलडीहा स्थित एक अस्पताल में भेजा गया। जहां चिकित्सकों ने एक को मृत घोषित कर दिया। वहीं दो का उपचार चल रहा है।

सभी आलाधिकारी पहूँचे मौके पर जिलाधिकारी के आने के बाद जाम हटाया

सूचना पर SPअंकुर अग्रवाल,ASP विनय सिंहSDM मनोज पाठक और SHO राजीव सिंह सिंह मौके पर पहुंच गए। ग्रामीण मृतक के शव को मौके पर रखकर डीएम को बुलाने की मांग पर अड़े रहे और जिलाधिकारी के आने के बाद ही शव को हटाए।

प्राप्त जानकारी के अनुसार डिघवट गांव में राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्रयोगशाला के भवन के पास नीरज (20), दिनेश (32) और सत्येंद्र कृषि कार्य कर रहे थे। इसी बीच भवन का छज्जा अचानक गिर गया। जिसके चलते तीनों मजदूर मलबे में दब गए। आनन-फानन में ग्रामीणों ने जेसीबी मशीन लगाकर मलबे से तीनों को बाहर निकाला और उपचार के लिए सकलडीहा भेजा। जहां चिकित्सकों ने नीरज को मृत घोषित कर दिया। हालांकि घटना की जानकारी के बाद तमाम आला अफसर मौके पर पहुंच गए। लेकिन ग्रामीण मृतक के शव को मौके पर रखकर संबंधित विभाग के ठेकेदार और अफसरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग पर अड़े रहे। जिलाधिकारी के आने और आश्वासन देने के बाद मजदूर शांत हुए।

मौके पर डीएम ईशा दुहन और ग्रामीणों से वार्ता चल रही है। वहीं जानकारी के बाद सपा विधायक प्रभुनारायण सिंह और सपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष सत्यनारायण भी मौके पर पहुंच गए। बाद में डीएम ने पांच लाख का मुआवजा और विभागीय जांच का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम हाउस भेज दिया।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

You missed