खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

चंदौली। भारतीय स्टेट बैंक भारत का सबसे बड़ा बैंक है और अपने नवोन्मेषी उत्पादों के साथ निरंतर अपने ग्राहकों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखता है। देश की आर्थिक प्रगति के साथ एसबीआई इसकी सामाजिक उत्थान की ओर भी निरंतर कार्यशील रहता है। इस संबंध में भारतीय स्टेट बैंक, लखनऊ मंडल के मुख्य महाप्रबंधक श्री शरद सत्यनारायण चांडक ने स्वास्थ्य एवं शिक्षा जैसी बुनियादी सुविधाओं के लिए सीएसआर के अंतर्गत बैंक की ओर से वित्तीय सहायता प्रदान की।

बैंक की ओर से नौ लाख सन्तानबे हज़ार रुपए का चेक प्रदान करते हुए कहा कि निःशुल्क और अच्छी चिकित्सा सुविधा देश के प्रत्येक नागरिक का अधिकार

स्वास्थ्य के क्षेत्र में श्री चांडक ने चंदौली के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. युगल किशोर राय को शॉल देकर सम्मानित किया और उन्हें बैंक की ओर से नौ लाख सन्तानबे हज़ार रुपए का चेक प्रदान करते हुए कहा कि निःशुल्क और अच्छी चिकित्सा सुविधा देश के प्रत्येक नागरिक का अधिकार है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारतीय स्टेट बैंक द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को चिह्नित कर उनके ट्रांसफार्मेशन का बीड़ा उठाया गया है।

वंचित वर्ग के सभी लोगों को बेहतर और प्रभावी चिकित्सा उपलब्ध कराने में मिलेगी सहायता

वित्तीय वर्ष में देश के 100 से भी अधिक पीएचसी का ट्रांसफार्मेशन एसबीआई द्वारा किया गया है और इसी क्रम में आज पीएचसी चहनियां, चंदौली के ट्रांसफार्मेशन हेतु यह वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है। श्री शरद चांडक ने कहा कि इससे वंचित वर्ग के सभी लोगों को बेहतर और प्रभावी चिकित्सा उपलब्ध कराने में सहायता मिलेगी और देश की प्रगति में एक नया आयाम स्थापित होगा।

भारतीय स्टेट बैंक द्वारा कम्पोज़िट विद्यालय, इमिलिया, शहाबगंज, चंदौली में स्मार्ट क्लास, सोलर पैनल एवं विद्यालय के जिर्णोद्धार हेतु छ लाख पचास हज़ार की राशि किया गया व्यय

शिक्षा के क्षेत्र में भारतीय स्टेट बैंक द्वारा कम्पोज़िट विद्यालय, इमिलिया, शहाबगंज, चंदौली में स्मार्ट क्लास, सोलर पैनल एवं विद्यालय के जिर्णोद्धार हेतु छ लाख पचास हज़ार की राशि का व्यय किया गया और कार्य सम्पन्न होने के बाद मुख्य महाप्रबंधक श्री शरद चांडक ने इसका वर्चुअल उद्घाटन किया। इस दौरान विद्यालय के प्रधानाध्यापक कृष्णानंद पाण्डेय स्टेट बैंक ज्ञानार्जन एवं विकास संस्थान में उपस्थित थे वहीं वर्चुअली विद्यालय के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की।

ये बच्चे देश के भविष्य ‚और इन्हें जिम्मेदार नागरिक बनाने का कर्तव्य हम सभी का

इस अवसर पर श्री चांडक ने कहा कि देश के भविष्य ये बच्चे हैं और इन्हें जिम्मेदार नागरिक बनाने का कर्तव्य हम सभी का है ऐसे में इन्हें जो भी संभव सुविधाएं उपलब्ध हों इसके लिए भारतीय स्टेट बैंक निरंतर प्रयत्नशील है ताकि प्रत्येक बच्चा अपने सपनों को साकार कर मूर्त रूप प्रदान कर सके। उन्होंने बच्चों से कहा कि अत्याधुनविक शिक्षण प्रणाली के रूप में स्मार्ट क्लास का सदुपयोग करते हुए इसका लाभ उठाएं और मेहनत से पढ़ाई करें। भारतीय स्टेट बैंक आपकी सहायता के लिए सदैव तत्पर है।

उप महाप्रबंधक ने पूरे वाराणसी परिक्षेत्र जिसमें पूर्वांचल के 10 जनपद सम्मिलित हैं उनमें से इमिलिया के विद्यालय को चुने जाने का बताया कारण

इस अवसर पर भारतीय स्टेट बैंक, प्रशासनिक कार्यालय के उप महाप्रबंधक धीरज कुमार ने पूरे वाराणसी परिक्षेत्र जिसमें पूर्वांचल के 10 जनपद सम्मिलित हैं उनमें से इमिलिया के इस विद्यालय को चुने जाने का कारण बताया। दिनांक 22 एवं 23 जुलाई 2022 को बैंक द्वारा चलाए किसान सम्पर्क कार्यक्रम रात्रि चौपाल- ‘चलो गाँव की ओर’ में इस गाँव से साक्षात्कार का मौका मिला। यह अत्यंत पिछड़ा हुआ गाँव है इसकी अधिकतम आबादी अनुसूचित जाति एवं जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग की है। यहाँ के निवासी मुख्यतः कृषि एवं इससे संबंधित कार्यों जैसे छोटी डेयरी, मछली पालन पर निर्भर हैं। इमिलिया के इस विद्यालय में कुल 300 बच्चे हैं जो कि अत्यंत ही गरीब वर्ग से आते हैं।

इमिलिया के विद्यालय को सीएसआर के अंतर्गत बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के लिए चिह्नित

इस दौरान प्रधानाध्यापक कृष्णानंद पाण्डेय ने विद्यालय की स्थिति के बारे में हमें बताया। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए महाप्रबंधक आनंद बिक्रम ने इमिलिया के विद्यालय को सीएसआर के अंतर्गत बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के लिए चिह्नित किया। इस गाँव की एक बुहत ही खास बात यह है कि यहाँ के लोग बहुत ही सीधे एवं सज्जन हैं तथा बैंकिंग परिदृश्य में जहाँ पूरा देश एनपीए की समस्या का सामना कर रहा है, यहाँ एक भी एनपीए खाता नही है, न ही यहाँ पर केसीसी के नवीकरण हेतु कोई मामला लंबित है और स्वयं सहायता समूह द्वारा यह गाँव एसबीआई से जुड़कर अतिशीघ्र मुख्य धारा में शामिल हो जाएगा।

ये भी रहे मौजूद

इस अवसर पर भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक-1 श्री प्रशांत कुमार, क्षेत्रीय प्रबंधक-2 सुश्री ऋचा यादव, क्षेत्रीय प्रबंधक-3 सुधांशु श्रीवास्तव, क्षेत्रीय प्रबंधक 7 शिरीष भारती, सहायक महाप्रबंधक, राघवेंद्र कुमार सिंह, जितेंद्र सिंह अधिकारी एवं अन्य स्टाफ सदस्य उपस्थित थे। सहायक महाप्रबंधक श्री अभिजीत लाहिरी ने कार्यक्रम का संचालन किया।

You missed