खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

चंदौली। बेसिक शिक्षा विभाग जनपद चंदौली द्वारा जनपद स्तरीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजन के सम्बन्ध में नीति आयोग, भारत सरकार द्वारा संचालित अकांक्षीय जनपद कार्यक्रम के अंतर्गत सरकार द्वारा आउटकम लिंक्ड पेमेंट पर आधारित पर्सनलाइज्ड एडेप्टिव लर्निंग (PAL) प्रोग्राम को शुरू करने वाला चंदौली देश का प्रथम जनपद है। जिसमें सरकार पहली बार आऊटकॉम फंडर है। इसके अंतर्गत 70 विद्यालयों को चुना गया है जिसमें टैब लैब की स्थापना की जाएगी। सभी चयनित विद्यालयों में लैब के लिए चयनित कक्षा में 50 टैबलेट सेट की स्थापना की जाएगी।इसके तहत कक्षा 3 से लेकर कक्षा 8 तक के विद्यार्थी टारगेट ग्रुप हैं और विषयवस्तु उत्तर प्रदेश राज्य के शिक्षा विभाग के पाठ्यक्रम पर आधारित है। प्रत्येक बच्चे को उसकी सीखने की क्षमता के अनुसार विषयवस्तु प्रदान किया जाएगा।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

कार्यक्रम पारंपरिक शिक्षा पद्धति से अलग बच्चों की सिखने की क्षमता को अधिक विकसित करने पर केंद्रित

यह कार्यक्रम पारंपरिक शिक्षा पद्धति से अलग बच्चों की सिखने की क्षमता को अधिक विकसित करने पर केंद्रित है। अतः वर्तमान समय की मांग के आधार पर शिक्षा को तकनीक के माध्यम से मजबूत बनाने की दिशा में यह देश में पहला कदम है।
चंदौली ने नीति आयोग द्वारा संचालित इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए जनपद स्तरीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम का सफल आयोजन किया जिसमें बेसिक शिक्षा विभाग से बेसिक शिक्षा अधिकारी व वरिष्ठ कोषाधिकारी की अध्यक्षता में सभी खंड शिक्षा अधिकारी, डी सी, ए आर पी, एस आर जी और अन्य लोगों ने प्रतिभागिता की।
कार्यक्रम की शुरूआत नीति आयोग की प्रतिनिधि विभा कुमारी द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम के विषय में अधिक जानकारी देने के लिए जनपद द्वारा चयनित फर्म convegenius edu Pvt Ltd आगे बढ़ाया। जिसमें आने वाले समय में उन्होंने अपनी कार्ययोजना साझा की। यह कार्यक्रम परस्पर काफी संवादात्मक रहा। जिसमें प्रतिभागियों ने इस शैक्षणिक कार्यक्रम के विषय में सवाल भी पूछे गए।जैसे:

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow
  1. Personalised adaptive learning हमारे छात्रों के सीखने के परिणामों को बेहतर बनाने में कैसे मदद करेगा?
    2.क्या यह केवल मूल्यांकन आधारित है या राज्य पाठ्यक्रम के साथ सीखने पर भी ध्यान केंद्रित करता है?
    3.कक्षा 5वीं, 3 और 8वीं की हिंदी के कुछ वीडियो भी दिखाए गए
    4.शिक्षक को डैशबोर्ड के माध्यम से छात्रों के प्रदर्शन को समझने में किस प्रकार आसानी होगी?
  2. शिक्षकों के लिए कितने प्रशिक्षण आयोजित किए जाएंगे?
  3. कार्यक्रम को सुचारू रूप से चलाने में फील्ड मैनेजमेंट स्टाफ जनपद की किस प्रकार सहायता करेंगे।

You missed