तेज रफ्तार ट्रक ने तीन बसों को टक्कर मारी; दो 10 फीट खाई में गिरीं, एक पलट गई

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क एजेंंशिया

सतना। मोहनिया टनल के पास ट्रक की टक्कर से तीन बसें पलट गईं। बताया जा रहा है कि हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई है। रीवा के एसपी मुकेश श्रीवास्तव ने बताया कि कुल 50 लोग घायल हुए हैं। इनमें से 15-20 लोगों की हालत गंभीर है। वहीं, हादसे के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देर रात घटनास्थल और अस्पताल का दौरा किया। इसके बाद सीएम शिवराज ने हादसे में मरने वालों के परिवारों को 10 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को दो लाख रुपये और मामूली रूप से घायलों को एक लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि मृतकों के परिजनों को योग्यता के अनुसार सरकारी नौकरी दी जाएगी।

ये बसें सतना में हुए कोल समाज के महाकुंभ में शामिल होने के बाद सीधी लौट रही थीं। इस कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और सीएम शिवराज सिंह भी शामिल हुए थे। घटना के वक्त सीएम शिवराज सीधी में थे। वे सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंच गए।

14 लोगों की मौत ‚ कई लोग घायल , जिनमें से 52 यात्रियों की हालत गंभीर

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रात 9 बजे मोहनिया टनल से कुछ दूरी पर यह हादसा हुआ। यहां एक तेज रफ्तार ट्रक ने तीन बसों को टक्कर मार दी। दो बसें 10 फीट गहरी खाई में गिर गईं। वहीं, एक बस हाईवे पर ही पलट गई। ट्रक सीमेंट से भरा था, टक्कर के बाद पलट गया।

हादसे के बाद चीख-पुकार मच गई। अन्य राहगीरों ने मदद की और घायलों को निकाला। पुलिस को सूचना दी गई। प्राथमिक जानकारी के मुताबिक हादसे में 14 लोगों की मौत हो चुकी है। कई लोग घायल हुए हैं, जिनमें से 52 यात्रियों की हालत गंभीर बनी हुई है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि हादसे की गंभीरता को देख लग रहा है कि मरने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है। ट्रक के नीचे भी कुछ लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। 

अमित शाह के शबरी महोत्सव में शामिल कार्यक्रम से लौटी थीं बसें
बस में सवार लोग सतना में अमित शाह के कार्यक्रम से लौट रहे थे। सतना में कोल जनजाति के शबरी महोत्सव में शामिल होकर लौटते वक्त यह हादसा हुआ है। मुख्यमंत्री चौहान लगातार सीधी और रीवा जिला प्रशासन से संपर्क में हैं। बताया जा रहा है कि शाम साढ़े 5 बजे कार्यक्रम खत्म हुआ, जिसके बाद सभी बसें

हादसे वाली जगह पर चाय-पानी के लिए रुकी थीं बसें
बताया जा रहा है कि सतना में आयोजित कोल जनजाति महाकुंभ के कार्यक्रम में भीड़ जुटाने के लिए विंध्य क्षेत्र के सभी जिलों को 300-300 बसें भरकर लोगों को लाने का टारगेट दिया गया था। शाम साढ़े 5 बजे कार्यक्रम खत्म हुआ।। सभी बसें सतना से रामपुर बघेलान और रीवा के रास्ते मोहनिया टनल होकर सीधी जा रही थीं।

टनल से एक किलोमीटर दूर सीधी जिले के चुरहट थाना क्षेत्र में बरखड़ा गांव के पास तीन बसें कुछ देर के लिए रोकी गई थीं। यहां यात्रियों के लिए चाय-नाश्ते की व्यवस्था की गई थी। इसी बीच, पीछे से आ रहे सीमेंट से भरे ट्रक ने तीनों बसों को टक्कर मारी। तीनों बसों से 50 से 60 सवार थे।

मृतकों के परिजनों को सी एम ने किया 10-10 लाख रुपए देने का ऐलान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपए, गंभीर घायलों को 2-2 लाख रुपए और साधारण घायलों को 1-1 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। मुख्यमंत्री शिवराज रात में ही घटना स्थल पहुंचे। उन्होंने हालात का जायजा लिया। उनके साथ प्रदेश भाजपाध्यक्ष वीडी शर्मा भी मौजूद रहे। इससे पहले सीधी कलेक्टर और एसपी ने भी घटनास्थल का जायजा लिया। सीधी सांसद रीति पाठक भी मौके पर पहुंचीं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता कमलनाथ, अजय सिंह ने भी हादसे पर दुख जताया।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow