चंद्रप्रभा बांध के पुनरुद्धार के लिए सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा परियोजना को स्वीकृति मिलने के साथ ही कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। टेंडर की प्रक्रिया आरंभ करके पुनरुद्धार का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है- अधीक्षण अभियंता केशरी सिंह

  • चंद्रप्रभा के पुनरूध्दार के प्रति पूरी तरह सतर्क विधायक‚चंद्रप्रभा पहुॅच अधीक्षण अभियन्ता को दी हिदायत।
  • विधायक द्वारा कमियों को दूर कर गुणवक्ता के साथ अतिशीघ्र कार्य करने का निर्देश।
  • लगातार विधायक चीफ व मंत्री के सम्पर्क में ।
  • डैम गेट के निर्माण से सम्बंधित सारा कार्य वरेली के यांत्रिकी विभाग द्वारा किया जा रहा ।
  • कार्य कराने के लिए दो जे ई आलरेडी मौजूद।
  • सिविल वर्क के लिए सिचाई विभाग द्वारा कराया जा रहा कार्य।
  • डैम के लीकेज के लिए जारी किए गये टेंडर।

खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क
चकिया‚चंदौली। बुध्दवार को विधायक कैलाश आचार्य चंद्रप्रभा के हो रहे जिर्णोध्दार का मवाईना करने पहुँच गये। वहाँ पहुॅचकर उन्होने अधीक्षण अभियन्ता केशरी सिंह से वार्ता की और स्थलीय निरीक्षण भी किया । उन्होने हिदायत देते हुए कहा कि किसी भी कीमत पर कोई भी कमी नही आनी चाहिए। उन्होने कहा कि जो भी कार्य कराये जा रहे है वे गुणवत्तापूर्ण हो। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही वर्दाश्त नही की जायेगी। इस दौरान विधायक कैलाश आचार्य ने पूरे डैम में नीचे उतरकर पूरी तरह से मुवाइना किया और सारी चीजे देखी। उन्होने कहा कि गेट के जो गाटर झड गये है उन्हे भी बदला जाय व किसी भी प्रकार मानसून से पहले दुरूस्त कर सौपने की बात भी कही। ताकि सुचारू रूप से पानी का रखरखाव हो सके।

srvs-001
srvs
WhatsApp Image 2023-08-12 at 12.29.27 PM
Iqra model school
WhatsApp-Image-2024-01-25-at-14.35.12-1
WhatsApp-Image-2024-02-25-at-08.22.10
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.39
WhatsApp-Image-2024-03-15-at-19.40.40
jpeg-optimizer_WhatsApp-Image-2024-04-07-at-13.55.52-1
previous arrow
next arrow

दक्षिणांचल के किसानों के शिघ्र बहुरेंगे दिन‚विधायक का प्रयास लाया रंग

बता दे कि दक्षिणांचल में चंद्रप्रभा वन्य जीव विहार में स्थित जर्जर हो चुके चंद्रप्रभा बांध के दिन बहुरने ही वाले हैं। क्षेत्रीय विधायक कैलाश आचार्य के सफल प्रयास से बांध के जर्जर सुलुस गेट की मरम्मत और हो रहे रिसाव को बंद कराने के अलावा उसके पुनरोद्धार के लिए शासन ने 12 करोड़ 6 लाख 58 हजार रुपए की धनराशि स्वीकृत कर दी है। कार्य प्रारम्भ हो चुका है। विभाग के अधीक्षण अभियन्ता ने बताया कि सारे बाधों के गेट से सम्बंधित सारे कार्य बरेली के अभियांत्रिकी विभाग द्वारा किया जा रहा है। दो जे ई हरवक्त देखरेख के लिए मौजूद है। कार्य तेजी से किया जा रहा है।

बांध के जीर्णोद्धार की सूचना मिलते ही क्षेत्रीय किसानों के चेहरे खिल उठे थे और आज विधायक के अथक प्रयास से पुनरूध्दार कार्य प्रारम्भ हो चुका है।

विधायक लगातार CM से लेकर मंत्री तक लगे रहे किसानों के पानी के लिए

बीते दिनों जब जनपद मुख्यालय पर आयोजित विशाल कार्यक्रम में शिरकत करने आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने क्षेत्रीय विधायक कैलाश आचार्य द्वारा राजदरी देवदरी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने और जर्जर हो चुके चंद्रप्रभा बांध की मरम्मत और उसके जीर्णोद्धार को लेकर मांग करते हुए अपनी आवाज बुलंद की थी।

इसके साथ ही लगातार प्रयास के क्रम में 20 जनवरी को भी शिष्टाचार मुलाकात के दौरान लखनऊ में विधायक कैलाश आचार्य ने मुख्यमंत्री और सिंचाई मंत्री स्वतंत्र देव सिंह को भी दिया था। मामले को संज्ञान में लेकर शासन ने चंद्रप्रभा बांध के पुनरोद्धार के लिए अपनी मुहर लगाते हुए 12 करोड़ 6 लाख 58 हजार रुपए की धनराशि स्वीकृत कर दी है।

चंद्रप्रभा बांध के जीर्णोद्धार होने के साथ ही उसके सुलुस गेट की मरम्मत और छिद्रों से हो रहे रिसाव को बंद हो जाने से बांध के कैचमेंट में स्थित पानी पूरी तरह सुरक्षित हो जाएगा। किसानों के सामने उत्पन्न होने वाली सिंचाई की समस्या से निजात मिलेगी। सुलूस गेट के खराब होने के चलते वर्तमान खेती के सीजन में बांध में बचा पानी पूरी तरह बह कर बर्बाद हो गया था

देश के प्रमुख पर्यटन स्थलों में शुमार राजदरी देवदरी जल प्रपात का सैलानियों के लिए मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहा वहा का गिरता हुआ अचानक जब पानी हुआ अदृश्य तो खेतों की सिंचाई भी हो गई प्रभावित।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow

प्रथम पंचवर्षीय योजना मे हुए चन्द्रप्रभा बांध का निर्माण के बाद से शायद यह पहला अवसर है कि बांध मे पानी का टोटा

जानकारों की माने तो जनपद सोनभद्र के सरहदी व क्षेत्र के उदितपुर सुर्रा गांव के करीब से निकली चन्द्रप्रभा नदी के पानी को एकत्रित कर चकिया सिकन्दरपुर बबुरी ईत्यादि क्षेत्रों के कृषि योग्य भूमि को सिंचित करने के लिए आजादी के बाद प्रथम पंचवर्षीय योजना मे चन्द्रप्रभा बांध का निर्माण हुआ था।

विधायक के निरीक्षण के दौरान ए भी रहे मौजूद

विधायक के निरीक्षण के दौरान बी जे पी के जिला महामंत्री उमाशंकर सिंह एड०‚डॉ प्रदीप उर्फ बंगाली‚मंडल अध्यक्ष राघवेन्द्र प्रताप सिंह ‚प्रभात पटेल ‚प्रभाकर पटेल‚केशवमूर्ति‚राजीव पाठक सहित कई लोग मौजूद रहे।