खबरी पोस्ट नेशनल न्यूज नेटवर्क

नौगढ‚चंदौली।राजकीय महाविद्यालय परिसर में आयोजित पांच दिवसीय रोवर्स रेंजर्स प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन शनिवार को हुआ।मुख्य अतिथि ने कहा कि टीम भावना से किया गया कार्य सदैव आगे बढने में होता है मददगार।
जिसमें विपरीत परिस्थितियों के दौरान भी जीवन चर्या को यथावत रखकर धैर्यपूर्वक समाधान करने का किए गए गुर अर्जन मे अब्वल प्रदर्शन करने वाली टोलियों को पुरष्कृत करके सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्पार्चन व दीप प्रज्वलित कर किया गया।तत्पश्चात शिक्षणार्थियो ने सरस्वती बंदना व स्वागत गीत की प्रस्तुति करके ज्ञान की अधिष्ठात्री देवी का उद्गगार व अतिथियों का सत्कार किया।

उपजिलाधिकारी आलोक कुमार ने शिविरार्थियों से रूबरू होकर 5 दिनों मे जीवन जीने की कला व टीम भावना से मिले अनुभव के बारे में विचारों को किया साझा

उपजिलाधिकारी आलोक कुमार ने शिविरार्थियों से रूबरू होकर 5 दिनों मे जीवन जीने की कला का मिले अनुभव के बारे में विचारों को साझा कर मुख्य अतिथि पद से संबोधित करते हुए कहा कि टीम भावना से किया गया कार्य सदैव आगे बढने मे मददगार साबित होता है।
जन जीवन में चाहे जो भी समस्या आ जाय उससे निपटने में रोवर्स /रेंजर्स सदैव निपुण रहता है।
पांच दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान अल्प संसाधनों के बावजूद भी वैकल्पिक टेंट लगाकर प्रवास करने भोजन बनाने विभिन्न बीमारियों में तत्कालीक उपचार स्वस्थ रहने की विधा का गुर अर्जन कराए जाने के साथ ही समाज सेवा देश सेवा की भावना से प्रेरित किया जाता है।

लक्ष्य प्राप्ति की कल्पना कड़ी मेहनत के बदौलत ही संभव

कहा कि युवाओं की जिज्ञासा दूसरों से सदैव प्रेरणा लेने की होनी चाहिये।
किसी भी लक्ष्य प्राप्ति की कल्पना कड़ी मेहनत के बदौलत ही संभव है।
बताया कि जनपद का दूरस्थ क्षेत्र युवाओं की प्रतिभा से भरा पड़ा है।जिसमें आवश्यकता है समय समय पर विभिन्न आयोजनो को आयोजित कर उसे निखारने की।

जीवन जीने की कला का उद्बोध सेवा भाव में भी बनेगा निपुण – सांसद प्रतिनिधि

विशिष्ट अतिथि सांसद प्रतिनिधि रमेश कुमार उर्फ पप्पू केशरी ने रोवर्स रेंजर्स कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि किताबी ज्ञान अर्जित करने के साथ ही जीवन जीने की कला का उद्बोध सेवा भाव में भी निपुण बनेगा।
अध्यक्षीय उद्बोधन मे महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ रमेश कुमार सिंह ने बताया कि जीवन में विपरीत परिस्थितियां कभी भी आमंत्रण देकर नहीं आती है।
प्राकृतिक आपदाओं से जब भी मानवता को आघात पहुंचता है तब युवाओं का जोश ही समाधान का मार्ग प्रशस्त करता है।जो कि उनके चरित्र निर्माण के लिए काफी महत्वपूर्ण है।
कहा कि रोवर्स रेंजर्स की गतिविधियों का बहुयामी परिणाम है।जो कि सामाजिक शारिरिक भावनाओं व आर्थिक उन्नति को विकसित कर ब्यक्तित्व का निखार करता है।
उन्होंने प्रशिक्षण के माध्यम से किए गए गुर अर्जन के आदर्शों एवं जीवन मूल्यों को अपनाने और जिम्मेदार नागरिक बनकर राष्ट्र सेवा के प्रति समर्पित रहने का आह्वान किया।

कार्यक्रम को चार चाँद लगाने का कार्य संचालन के माध्यम से डा०पंकज व धन्यवाद ज्ञापन डा० उमेश चन्द्र द्वारा

संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर डा.पंकज कुमार शुक्ला व धन्यवाद ज्ञापन असिस्टेंट प्रोफेसर डा.रमेश चंद्र सिंह ने किया।
इस अवसर पर भारत स्काउट गाइड उ.प्र.के रोवर्स प्रशिक्षक रतन जायसवाल रेंजर्स प्रशिक्षिका साक्षी गुप्ता व महाविद्यालय के असिस्टेंट डा.शीतला प्रसाद सिंह लिपिक सुरेश चन्द्र जायसवाल महेंद्र केशरी व अन्य मौजूद रहे।

khabaripost.com
sagun lan
sardar-ji-misthan-bhandaar-266×300-2
bhola 2
add
WhatsApp-Image-2024-03-20-at-07.35.55
previous arrow
next arrow